C0=0== मजा पहली होली का ससुराल में - 2 - EroticPad.com
  1.  0  0  0  0  0  2705

मजा पहली होली का ससुराल में - 2

 Volume 2 सावधान ,…सावधान। चेतावनी ,... चेतावनी।

इस में किंक है , समलैंगिक सम्बन्ध ( पुरुष एंव स्त्री दोनों ), आयु का अंतर ( खेली खायी भी कच्ची कलियाँ भी ), और बहुत कुछ गर्हित , जो सामन्यतया अनैसर्गिक , गर्हित माना जाता है वो सब कुछ है।

और ये अक्सर मेरी कहानियों में नहीं होता। बस एक बार सोचा , जिस गाँव कभी भी नहीं गयी , वहां भी चल के देखा जाय। लोग गालियां देंगे सह लुंगी , आखिर तारीफ कभी कभार जो मिल जाती है वो तो मैं आँचल /दुपट्टा पसार के ले लेती हूँ , तो गालियाँ कौन लेगा? तो इस लिए ये किंक वाली होली की कहानी लिखी गयी।

लेकिन इसका एक और कारण था मेरे एक मित्र , अग्रज और प्रेरक साथी लेखक , ये कहानी उन्हें ट्रिब्यूट के तौर पे भी है।

के पी या कथा प्रेमी , एक ही फोरम में हम दोनों लिखते थे , लेकिन अब वहां न वो हैं न मैं। सुधी पाठक जानते हैं।

खैर , अंजू मौसी , गीता चाची , कौन नहीं जानता। उनकी कई कहानियाँ इस फोरम में भी पोस्ट हुईं है कई लोगो द्वारा , प्रशंशित , चर्चित भी हुयी। ( हालांकि जैसी परंपरा है , उनके नाम का उल्लेख पोस्टर्स ने नहीं किया , शायद अज्ञानतावश ). खैर तो इस कहानी में मैंने उनकी जमीन पे कुछ कहने की कोशिश की और होली और किंक के इस मिश्रण का जन्म हुआ , मैंने उन्हें मेल भी किया और उन्होंने साधुवाद भी दिया। ये उनका बड़प्पन था। जिस तरह से वो अनैसरगिक और श्रृंगार का मिश्रण करते हैं सब कुछ ग्राह्य और नैसर्गिक ही लगता है। मैं उनसे कोसों पीछे हूँ।

और अगर कहानी ऐसी तो सीक्वेल में भी वो बातें होंगी , समलैंगिक सम्बन्ध , उम्र का अंतर इत्यादि।

तो एक बार फिर आप से कर बध्द निवेदन , हर खासो आम से ये न कहना खबर न हुयी अगर आप को ये चीजें नहीं पंसद है , तो आप इस कहानी से गुरेज कर सकते हैं या फिर ट्राई कर सकते हैं और न पसंद आने पे वो भाग छोड़ के आगे बढ़ सकते है , क्योंकि कहानी में कुछेक प्रसंग ही ऐसे हैं

और अगर कुछ भी नहीं तो

फागुन के दिन चार है न , जहाँ आतंक के खिलाफ आखिरी जंग चल रही है मुंबई में।

तो फिर शुरू करती हूँ आप सबसे आदेश ले के

0 0 Chapter 1  by komaalrani
5308 words 143 reads
0 0 Chapter 2  by komaalrani
5741 words 84 reads
0 0 Chapter 3  by komaalrani
1943 words 89 reads
0 0 Chapter 4  by komaalrani
4315 words 82 reads
0 0 Chapter 5  by komaalrani
2538 words 56 reads
0 0 Chapter 6  by komaalrani
1401 words 79 reads
0 0 Chapter 7  by komaalrani
4891 words 67 reads
0 0 Chapter 8  by komaalrani
3050 words 58 reads
0 0 Chapter 9  by komaalrani
4850 words 62 reads
0 0 Chapter 10  by komaalrani
1743 words 56 reads
0 0 Chapter 11  by komaalrani
7293 words 63 reads
0 0 Chapter 12  by komaalrani
3797 words 52 reads
0 0 Chapter 13  by komaalrani
3499 words 50 reads
0 0 Chapter 14  by komaalrani
2171 words 40 reads
0 0 Chapter 15  by komaalrani
4298 words 44 reads
0 0 Chapter 16  by komaalrani
4322 words 48 reads
0 0 Chapter 17  by komaalrani
2926 words 40 reads
0 0 Chapter 18  by komaalrani
1204 words 65 reads
0 0 Chapter 19  by komaalrani
2392 words 42 reads
0 0 Chapter 20  by komaalrani
2442 words 49 reads
0 0 Chapter 21  by komaalrani
3133 words 46 reads
0 0 Chapter 22  by komaalrani
1382 words 43 reads
0 0 Chapter 23  by komaalrani
2952 words 47 reads
0 0 Chapter 24  by komaalrani
2987 words 40 reads
0 0 Chapter 25  by komaalrani
4188 words 36 reads
0 0 Chapter 26  by komaalrani
2765 words 36 reads
0 0 Chapter 27  by komaalrani
2490 words 39 reads
0 0 Chapter 28  by komaalrani
1354 words 37 reads
0 0 Chapter 29  by komaalrani
874 words 32 reads
0 0 Chapter 30  by komaalrani
3167 words 37 reads
0 0 Chapter 31  by komaalrani
3189 words 36 reads
0 0 Chapter 32  by komaalrani
3010 words 26 reads
0 0 Chapter 33  by komaalrani
2721 words 35 reads
0 0 Chapter 34  by komaalrani
1841 words 30 reads
0 0 Chapter 35  by komaalrani
2148 words 30 reads
0 0 Chapter 36  by komaalrani
3553 words 36 reads
0 0 Chapter 37  by komaalrani
2168 words 25 reads
0 0 Chapter 38  by komaalrani
4141 words 26 reads
0 0 Chapter 39  by komaalrani
2179 words 32 reads
0 0 Chapter 40  by komaalrani
3879 words 31 reads
0 0 Chapter 41  by komaalrani
2397 words 35 reads
0 0 Chapter 42  by komaalrani
4326 words 34 reads
0 0 Chapter 43  by komaalrani
1919 words 33 reads
0 0 Chapter 44  by komaalrani
2877 words 31 reads
0 0 Chapter 45  by komaalrani
2550 words 56 reads
0 0 Chapter 46  by komaalrani
3434 words 43 reads
0 0 Chapter 47  by komaalrani
4130 words 42 reads
0 0 Chapter 48  by komaalrani
2953 words 35 reads
0 0 Chapter 49  by komaalrani
3382 words 32 reads
0 0 Chapter 50  by komaalrani
1562 words 36 reads
0 0 Chapter 51  by komaalrani
2785 words 41 reads
0 0 Chapter 52  by komaalrani
2609 words 39 reads
0 0 Chapter 53  by komaalrani
2677 words 36 reads
0 0 Chapter 54  by PeepingTom
4996 words 47 reads
0 0 Chapter 55  by komaalrani
2559 words 49 reads
0 0 Chapter 56  by komaalrani
2643 words 59 reads